Type Here to Get Search Results !

हिंदी दिवस पर नारे कविता (Slogans on Hindi Diwas in Hindi)

हिंदी दिवस पर नारा (Slogans on Hindi Diwas in Hindi)
 


🛑 भाषण हिंदी दिवस.🛑

हिंदी देश की भाषा है, हर भारतवासी की अभिलाषा है।

देश को एकता में बांधती है हिंदी, अनगिनत लोगो को साधती है हिंदी।

हिंदी दिवस पर हमने ठाना है, लोगो में हिंदी का स्वाभिमान जगाना है।

भारत का आधार है हिंदी, सबके सपनो को करती है साकार ये हिंदी।

⚜️  हिंदी दिवस का इतिहास ? यह पढीये !

भारतेंदु और दिनकर के कलम से निकले हिंदी के साहित्य, भारतवासियों के जीवन में उमंग भरते है नित्य।

देखो 14 सितंबर का दिन आया है, हिंदी दिवस का दिन लाया है।

14 सितंबर की करो तैयारी, देश में हिंदी दिवस का त्योहार मनेगा अबकी बारी।

आ गया हिंदी दिवस का यह अवसर, जिस पर झूमेंगे-गायेंगे हम सब मिलकर।

हिंदी हमारा अभिमान, हिंदी हर भारतवासी का स्वाभिमान।

हिंदी हमारी भाषा ही नही हमारी अभिलाषा भी है।

हिंदी है जन-जन की भाषा देश भर में इसे सम्मान मिले यही है मेरी अभिलाषा।


⚜️ हिंदी दिवस सूत्रसंचालन ⏮️


हिंदी को राजनीती का मुद्दा ना बनाओ, हिंदी दिवस पर इसे तुम खुद अपनाओ।

हिंदी की महत्ता को तुम कम ना आंको, भाषा के आधार पर देश को ना बांटो।

हिंदी है भारत का अभिमान, दक्षिण हो पश्चिम सब मिलकर करो इसका सम्मान।

देश को हिंदुस्तान के नाम से जाना जाता है, भारत की भाषा को हिंदी के रुप में पहचाना जाता है।

इस हिंदी दिवस बस यही है नारा, हिंदी अपनाकर लाओ देश में उजियारा।

पूरब-पश्चिम का भेद दुर करो, हिंदी को अपनाकर सब एक बनो।

🔅 हिंदी दिवस स्लोगन नारे ◀️

आधुनिक समाज के लिए तुम अंग्रेजी जरुर अपनाओ, पर कुछ ऐसा भी इसके दिवाने ना बनो की अपने मातृभाषा हिंदी को भूल जाओ।

हिंदी सबको साथ लाएगी, हमारी मातृभाषा ही देश को तरक्की के राह पर ले जाएगी।

हिंदी को सम्मान दो, अपने दिलो में स्थान दो।

देश में एकता भाई-चारा बढ़ाओ, सब मिलकर हिंदी को अपनाओ।

🛑 भाषण हिंदी दिवस.🛑

हिंदी, किसान और जवान, देश के तरक्की के लिए जरुरी है इनका सम्मान।

इस हिंदी दिवस हमें यह प्रण लेना होगा कि हम किसी भी मंच से हिंदी बोलने में संकोच नही करेंगे।

जो भी देश यदि अपनी मातृभाषा का सम्मान नही करेगा तो उसका पतन निश्चित है।

माँ और मातृभाषा इनके सम्मान में कभी कोई कमी नही आनी चाहिए।

🔅 हिंदी दिवस कविता ◀️

हिंदी सिर्फ देश के आम जन की भाषा ही नही है, यह उनके विचारो को व्यक्त करने का जरिया भी है।

हिन्दी दिवस पर कविता

हिन्दी-हिन्दु-हिन्दुस्तान,

कहते है, सब सीना तान,

पल भर के लिये जरा सोचे इन्सान

रख पाते है हम इसका कितना ध्यान,

सिर्फ 14 सितम्बर को ही करते है

अपनी राष्टृ भाषा का सम्मान

हर पल हर दिन करते है हम

हिन्दी बोलने वालो का अपमान

14 सितम्बर को ही क्यों

याद आता है बस हिन्दी बचाओं अभियान

क्यों भूल जाते है हम

हिन्दी को अपमानित करते है खुद हिन्दुस्तानी इंसान

क्यों बस 14 सितम्बर को ही हिन्दी में

भाषण देते है हमारे नेता महान

क्यों बाद में समझते है अपना

हिन्दी बोलने में अपमान

क्यों समझते है सब अंग्रेजी बोलने में खुद को महान

भूल गये हम क्यों इसी अंग्रेजी ने

बनाया था हमें वर्षों पहले गुलाम

आज उन्हीं की भाषा को क्यों करते है

हम शत् शत् प्रणाम

अरे ओ खोये हुये भारतीय इंसान

अब तो जगाओ अपना सोया हुआ स्वाभिमान

उठे खडे हो करें मिलकर प्रयास हम

दिलाये अपनी मातृभाषा को हम

अन्तरार्ष्टृीय पहचान

ताकि कहे फिर से हम

हिन्दी-हिन्दु-हिन्दुस्तान,

कहते है, सब सीना तान,

--- वन्दना शर्मा

🛑 भाषण हिंदी दिवस.🛑

हिंदी दिवस स्लोगन सन्देश नारे (Hindi Divas Slogan Quotes):


एकता ही हैं देश का बल, जरुरी हैं हिंदी का संबल
=====================================
हिंदी का विकास, देश का विकास
=====================================
करो हिंदी का मान, तभी बढ़ेगी देश की शान
=====================================
प्रेम का दूजा नाम हैं हिंदी.
=====================================
ना करो हिंदी की चिंदी, हिंदी तो हैं देश की बिंदी
 ======================================

Hindi Diwas Kavita Poem (हिंदी दिवस पर कविता)

हिन्दुस्तानी हैं हम गर्व करो हिंदी पर
सम्मान देना,दिलाना कर्तव्य हैं हम पर
खत्म हुआ विदेशी शासन
अब तोड़ो बेड़ियों को
तह दिल से अपनाओ खुले आसमां को
पर ना छोड़ो धरती के प्यार को
हिंदी हैं मातृतुल्य हमारी
इस पर न्यौछावर करो जिन्दगी सारी

=====================================

सबकी सखी हैं मेरी हिंदी
जैसे माथे पर सजी हैं सुंदर बिंदी
देवनागरी हैं इसकी लिपि
संस्कृत हैं इसकी जननी
हर साहित्य की हैं ये ज्ञाता
सुंदर सरल हैं इसकी भाषा
प्रेम अपनापन सौन्दर्य हैं इसका
दिलाना सम्मान कर्तव्य हैं हम सबका
=====================================

हिंदी दिवस शायरी (Hindi Divas Shayari)

हर कण में हैं हिंदी बसी
मेरी माँ की इसमें बोली बसी
मेरा मान हैं हिंदी
मेरी शान हैं हिंदी
================================
हिंदी का करे सम्मान
हैं यह प्रेम सौहाद्र का दूजा नाम
हर देश का सम्मान हैं मातृभाषा
गर्व से कहों हैं हमारी हिंदी भाषा
===================================

⚜️  हिंदी दिवस का इतिहास ? यह पढीये !

⚜️ हिंदी दिवस सूत्रसंचालन ⏮️

🔅 हिंदी दिवस स्लोगन नारे ◀️

🔅 हिंदी दिवस कविता ◀️


Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.